Essay on National integration in Hindi – राष्ट्रीय एकता पर निबंध

हमारे देश, भारत में विभिन्न भाषाएं, संस्कृतियां, जातियां, धर्म और भौगोलिक अंतर हैं। हालांकि, इनके अलावा लोगों में एकता और एकता की भावना है।

इससे राष्ट्र में National integration का निर्माण होता है। जैसे पक्षी एक बड़े परिवार की तरह एक साथ रहते हैं, मनुष्य को अपने सामाजिक मतभेदों या इतिहास को पीछे छोड़ते हुए एकजुट होना चाहिए। हमारा राष्ट्र एकजुटता के इस विचार से संबंधित होना चाहिए।

राष्ट्रीय एकता पर निबंध (Essay on National integration in Hindi)

परिचय (Introduction)

National integration क्या है? राष्ट्रीय एकता को विभिन्न संस्कृतियों के लोगों की भूमि में भावनात्मक एकजुटता की भावना के रूप में परिभाषित किया गया है। आज एक भी देश एक साम्प्रदायिक पहचान का दावा नहीं कर सकता।

विभिन्न समुदाय अपनी जाति और धर्म के अनुसार अलग-अलग राज्यों में रहते हैं। ये सभी एक ही देश के हैं और एक साथ शांति से रहते हैं। भारत जैसे विशाल देश के लिए राष्ट्रीय एकीकरण वास्तव में महत्वपूर्ण है।

भारत एक बहुभाषी और बहु-नस्लीय देश है। अनादि काल से विभिन्न समुदायों, जातियों और धर्मों के लोग यहां शांति से रह रहे हैं। वास्तव में अनेकता में एकता ही हमारी सभ्यता की ताकत है।

धार्मिक असहिष्णुता देश की एकता, अखंडता और एकजुटता को प्रभावित करती है। इसे किसी भी कीमत पर देश से हटाना होगा और गरीबी और जातियों को हटाना भी समय की मांग है।

राष्ट्रीय एकता के उद्देश्य (Objectives of National Integration)

राष्ट्रीय एकीकरण का मुख्य उद्देश्य किसी देश के लोगों के लिए बेहतर वातावरण प्रदान करना है। इस प्रकार वे सभी पहलुओं में खुद को विकसित कर सकते हैं।

यह भारत जैसे बहु-नस्लीय और बहुभाषी देश को बांधने में भी मदद करता है, जिसमें विविध संस्कृति और परंपरा वाले लोग हैं। यह समुदायों, समाजों और लोगों के बीच भाईचारे के मिलन को भी बढ़ाता है।

राष्ट्रीय एकीकरण किसी देश की स्थिरता को बनाए रखने में भी मदद करता है और इसके संपूर्ण विकास को जोड़ता है। यह सांप्रदायिक सद्भाव को पोषित करने का समर्थन करता है और जातिवाद, क्षेत्रवाद और भाषावाद आदि से लड़ता है।

National integration राष्ट्र के प्रति निष्ठा और बंधुत्व की भावना में सुधार करती है। यह किसी भी राष्ट्रीय आपातकाल की स्थिति में लोगों को एकजुट करता है।

राष्ट्रीय एकता का महत्व क्या है? (What is the importance of National Integration?)

National integration देश को एक बनाने में एक गतिशील भूमिका निभाती है। यह समाज के हर वर्ग को एकजुट करने से ही होता है। यह प्रत्येक नागरिक को समान अवसर प्रदान करता है।

यह सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक विकास के मामले में भी एक समान मंच प्रदान करता है। राष्ट्रीय एकता अल्पसंख्यकों को एकजुट करने के साथ-साथ उन्हें बिना किसी हस्तक्षेप के अपने तरीके से जीने की आजादी भी देती है।

इस प्रकार राष्ट्रीय एकीकरण भी देश के विकास के लिए आवश्यक है। क्योंकि राष्ट्रीय एकता वाला देश सदैव फलता-फूलता रहेगा।

आधुनिक युग में राष्ट्रीय एकता का महत्व (Importance of National Integration in the Modern Age)

आधुनिक समय में राष्ट्रीय एकता अधिक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसलिए इसमें सांप्रदायिकता, क्षेत्रवाद, भाषावाद आदि जैसी चुनौतियां हैं। वैश्विक आतंकवाद भी राष्ट्रीय एकीकरण के लिए प्रमुख खतरों में से एक है। जबकि कट्टरपंथी विचारों वाले कुछ ही लोग आबादी को समझाते हैं और उनका ब्रेनवॉश करते हैं।

वे उन्हें अपनी मातृभूमि के खिलाफ भड़काते हैं। तकनीकी प्रगति और सोशल मीडिया की पहुंच के युग में। बहकावे में आना बहुत आसान है। राष्ट्रीय एकता इन स्थितियों की अनदेखी करने में मदद करती है। यह लोगों को बौद्धिक रूप से परिपक्व और सहनशील बनाता है।

यह भी पढ़ेंगणेश चतुर्थी महोत्सव पर निबंध

राष्ट्रीय एकता को कैसे बढ़ावा दें? (How to promote national integration?)

चूंकि National integration किसी देश के विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, इसलिए उसके नागरिकों के बीच राष्ट्रीय अखंडता की भावना विकसित करना महत्वपूर्ण हो जाता है।

इसलिए, समाज के सभी वर्गों पर ध्यान केंद्रित करना और उन्हें आर्थिक रूप से निर्भर बनाना राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देगा। इससे आर्थिक अखंडता को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। यह राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देने में सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक है।

अन्य जाति या धर्म के प्रति सहिष्णुता और सम्मान भी राष्ट्रीय अखंडता को बढ़ावा देने का समर्थन करते हैं। शिक्षा, सामाजिक और सांस्कृतिक एकता, लोगों के बीच समानता भी राष्ट्रीय एकता की भावना सिखाने में मदद करती है।

निष्कर्ष (Conclusion)

किसी देश के लिए राष्ट्रीय एकता बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि मानव जाति के इतिहास में यह कई बार देखा गया है कि एक राष्ट्र की अखंडता खतरे में पड़ गई।

उसे भीतर से बड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ा और वह विदेशी हमलों का शिकार भी हुई। इसलिए राष्ट्रीय एकता राष्ट्र के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यह इसे निरंतर विकास के साथ इतिहास में जीवित रखता है।

राष्ट्रीय एकता पर लघु निबंध (Short Essay on National Integration in Hindi)

National integration विभाजनकारी लोगों और संस्कृति को संघबद्ध बनाने का एक तरीका है। यह अनुकूलता, समान पहचान और राष्ट्रीय चेतना की भी एक प्रक्रिया है। राष्ट्रीय एकता सभी विविध निष्ठाओं को एक राष्ट्रीय एकता में जोड़ती है।

राष्ट्रीय एकता को लोगों के दिलों में एकता, सद्भाव और एकजुटता की सामान्य भावना, देश के प्रति एकता और वफादारी की भावना विकसित करने की एक मनोवैज्ञानिक और शैक्षिक प्रक्रिया के रूप में परिभाषित किया गया है।

राष्ट्रीय एकता का शाब्दिक अर्थ है एक राष्ट्र के सभी लोगों को एक साथ लाना। यह एक विशेष भावना है जो सभी लोगों को उनके धर्म, जाति, भाषा या इतिहास को महत्व दिए बिना एक समान बंधन में लाती है।

देश की अखंडता को प्रभावित करने वाले कई कारण हैं। सांप्रदायिक दंगों की तरह, देश के कई हिस्सों में हरिजनों पर किए गए अत्याचार, लोगों द्वारा प्रदर्शित भाषाई अंधविरोध, विशेष समुदायों पर आतंकवादी गतिविधियां और बहुत कुछ।

राष्ट्रीय एकता एक मजबूत मजबूत ताकत है जहां हर कोई शांति से एक साथ रहता है। हम भारत में रहते हैं। भारत हमारा अपना देश है, एक भावना है जो राष्ट्रीय एकता के आधार को विकसित करती है।

भारत एक विशाल जनसंख्या वाला विशाल देश है। अगर हम सब साथ रहें तो देश के महान संसाधनों से भरी यह महान मानव शक्ति पूरी दुनिया को अपने साथ ले जा सकती है।

यह भी पढ़ें

FAQs on National integration

राष्ट्रीय एकता का उद्देश्य क्या है?

राष्ट्रीय एकता का उद्देश्य विभिन्न जाति, पंथ और धर्म के लोगों को एक छत के नीचे लाना और सद्भाव स्थापित करना है।

राष्ट्रीय एकता का उद्देश्य क्या है?

राष्ट्रीय एकता का उद्देश्य इन सभी विभिन्न नस्लीय धार्मिक सांस्कृतिक और भाषाई समूहों को एक राष्ट्रीय चेतना के साथ एक राष्ट्र में एक साथ लाना है। इसका उद्देश्य सामाजिक-सांस्कृतिक आर्थिक असमानता को दूर करना और एकता और एकजुटता को मजबूत करना है।

राष्ट्रीय एकता क्यों आवश्यक है?

एक देश के लिए राष्ट्रीय एकता आवश्यक है क्योंकि यह लोकतंत्र को स्थिर करने में मदद करता है, आर्थिक विकास को बढ़ाता है और लोगों को महत्वपूर्ण अधिकार और कर्तव्य देता है। यह बहुत महत्वपूर्ण है, खासकर भारत जैसे विकासशील देशों के लिए।

Hii, Welcome to Odisha Shayari, I am Rajesh Pahan a Hindi Blogger From the Previous 3 years.

Leave a Comment