Equity Shares Kya Hai? | इक्विटी शेयर क्या होता है?

नमस्कार दोस्तों क्या आप जानते हे What is Equity Share in Hindi, अगर आप नहीं जानते हे तो हम इसी पोस्ट में इक्विटी शेयर क्या होता है? के बारेमे पूरा जानकारी प्रदान किया है।

Equity Shares लोगों द्वारा शेयर बाजार में निवेश करने के सबसे आम तरीकों में से एक है। बहुत से लोग इक्विटी शेयरों में ऐतिहासिक रूप से पेश किए गए शेयरों की तुलना में अधिक रिटर्न कमाने की उम्मीद में निवेश करते हैं। Equity Shares के बारेमे ज्यादा जानकारी के लिए पोस्ट को पूरा पढ़े।

Table of Contents

इक्विटी शेयर क्या हैं? | Equity Shares Kya Hai?

Equity Shares किसी भी कंपनी के लिए दीर्घकालिक वित्तपोषण स्रोत हैं। ये शेयर आम जनता के लिए जारी किए जाते हैं और प्रकृति में गैर-प्रतिदेय हैं।

ऐसे शेयरों में निवेशकों को Vote देने, लाभ साझा करने और कंपनी की संपत्ति का दावा करने का अधिकार होता है। Equity Shares के मामले में मूल्य को विभिन्न शब्दों जैसे सममूल्य, अंकित मूल्य, बुक वैल्यू आदि में व्यक्त किया जा सकता है।

Equity Shares के प्रकार

1. अधिकृत शेयर पूंजी (Authorized Share Capital)

यह राशि एक संगठन द्वारा जारी की जाने वाली उच्चतम राशि है। इस राशि को कंपनी की सिफारिश के अनुसार और कुछ औपचारिकताओं की मदद से समय बदला जा सकता है।

2. जारी की गयी शेयर पूंजी (Issued Share Capital)

यह स्वीकृत पूंजी है जो एक संगठन निवेशकों को देता है।

3. सब्स्क्राइब्ड शेयर कैपिटल (Subscribed Share Capital)

यह जारी पूंजी का एक हिस्सा है जिसे एक निवेशक स्वीकार करता है और उस पर सहमत होता है।

4. प्रदत्त पूंजी (Paid Up Capital)

यह सब्स्क्राइब्ड कैपिटल का एक हिस्सा है, जो निवेशक देते हैं। चुकता पूंजी वह धन है जो एक संगठन वास्तव में कंपनी के संचालन में निवेश करता है।

5. शेयर (Right Share)

ये उस प्रकार के शेयर हैं जो एक संगठन अपने मौजूदा शेयरधारकों को जारी करता है। इस प्रकार का शेयर कंपनी द्वारा पुराने निवेशकों के मालिकाना अधिकारों को सुरक्षित रखने के लिए जारी किया जाता है।

.6. बोनस शेयर (Bonus Share)

जब कोई व्यवसाय लाभांश के रूप में स्टॉक को अपने शेयरधारकों को विभाजित करता है, तो हम इसे बोनस शेयर कहते हैं।

7. पसीना इक्विटी शेयर (Sweat Equity Share)

इस प्रकार का हिस्सा किसी संगठन के उत्कृष्ट कर्मचारियों या अधिकारियों को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए किसी संगठन को बौद्धिक संपदा अधिकार प्रदान करने के लिए आवंटित किया जाता है।

इक्विटी शेयरों की विशेषताएं

प्रकृति में स्थायी (Permanent in nature)

कंपनी द्वारा जारी किए गए ये शेयर प्रकृति में स्थायी और गैर-प्रतिदेय हैं। आप इन शेयरों को तब तक वापस नहीं कर सकते जब तक कंपनी अपना कारोबार बंद करने का फैसला नहीं करती।

हस्तांतरणीय और लाभांश भुगतान (Transferable and dividend pay-out)

Equity Shares हस्तांतरणीय हैं यानी आप इन प्रतिभूतियों के स्वामित्व को अपने से दूसरे निवेशक को या इसके विपरीत स्थानांतरित कर सकते हैं। कई कंपनियां अपने शेयरधारकों को लाभांश भुगतान की पेशकश करती हैं।

यह लाभांश राशि कंपनी द्वारा किए गए लाभ और कंपनी के भीतर धन की उपलब्धता पर निर्भर करती है। इसलिए, जब भी कोई कंपनी लाभ कमाने में विफल रहती है, तो वह लाभांश भुगतान पर रोक लगाने का निर्णय ले सकती है।

संभावित रूप से उच्च रिटर्न (Potentially high returns)

Equity Shares अस्थिर होते हैं और इनमें उच्च जोखिम वाले कारक होते हैं, हालांकि पेश किए गए रिटर्न बहुत बड़े होते हैं। इसलिए, यदि आपके पास अधिक जोखिम लेने की क्षमता है तो आप इक्विटी शेयरों से उच्च रिटर्न के साथ एक बड़ा कोष बना सकते हैं।

इस प्रकार का हिस्सा किसी संगठन के उत्कृष्ट कर्मचारियों या अधिकारियों को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए किसी संगठन को बौद्धिक संपदा अधिकार प्रदान करने के लिए आवंटित किया जाता है।

आपको इक्विटी शेयरों में निवेश क्यों करना चाहिए?

Equity Shares लोकप्रिय हैं और सबसे अच्छी निवेश रणनीति यहां कुछ कारण बताए गए हैं कि आपको इक्विटी शेयरों में निवेश करने पर विचार क्यों करना चाहिए –

उच्च आय (High Income)

आप इक्विटी निवेश की मदद से उच्च आय उत्पन्न कर सकते हैं। आप न केवल उच्च रिटर्न के साथ एक विशाल कोष का निर्माण करते हैं बल्कि एक स्थिर लाभांश भुगतान भी आपके धन सृजन में जोड़ता है।

मुद्रास्फीति के खिलाफ बचाव (Hedge against inflation)

इक्विटी मार्केट में निवेश से मुनाफा होता है जो बदले में निवेशक की खर्च करने की शक्ति को बढ़ाता है। मुद्रास्फीति के दौरान उत्पन्न लाभ क्रय शक्ति से अधिक है। यह समय के साथ निवेश मूल्य को बढ़ाता है।

पोर्टफोलियो विविधीकरण (Portfolio diversification)

जो निवेशक इक्विटी निवेश से जुड़े जोखिम से डरते हैं, वे डेट इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश करते हैं क्योंकि वे कम अस्थिर होते हैं। लेकिन स्टॉक और बॉन्ड बाजार का प्रदर्शन मांग पर निर्भर करता है। इसलिए, यदि बॉन्ड स्टॉक अंडरपरफॉर्म कर रहे हैं तो निवेशक इक्विटी मार्केट निवेश पर निर्भर हो सकते हैं।

इक्विटी शेयरों में निवेश के लाभ

उच्च जोखिम, उच्च इनाम (High risk, high reward)

जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है कि Equity Shares उच्च जोखिम वाले कारकों के साथ होते हैं। लेकिन जोखिम जितना अधिक होगा, इक्विटी शेयर निवेश द्वारा दिए जाने वाले प्रतिफल उतने ही अधिक होंगे। जब कंपनी मुनाफा कमाती है, तो निवेशकों को कंपनी द्वारा दिए गए लाभांश के माध्यम से लाभ होता है।

आसान और कुशल (Easy and efficient)

एक निवेशक स्टॉक ब्रोकर या वित्तीय योजनाकार की मदद से इक्विटी बाजार में निवेश कर सकता है। निवेशक डीमैट खाते का उपयोग करके अपनी पसंद की किसी भी कंपनी की इक्विटी में निवेश कर सकते हैं। एक डीमैट खाता आसान और कुशल ट्रेडिंग लेनदेन को सक्षम बनाता है।

विविधता (Diversity)

निवेशक विभिन्न क्षेत्रों या उद्योगों से कंपनी की इक्विटी में निवेश करके एक विविध निवेश पोर्टफोलियो बना सकते हैं। विविधीकरण आपको विभिन्न क्षेत्रों की इक्विटी में निवेश प्रदान करता है और एक संतुलित पोर्टफोलियो बनाता है जो भविष्य में स्थिर रिटर्न प्रदान करता है।

निष्कर्ष

हमें उम्मीद हे की आपको हमारा ये पोस्ट ‘Equity Shares Kya Hai‘ अच्छा लगा होगा। अगर आपको अच्छा लगा हे तो आपके दोस्त और परिवार के साथ शेयर करे ताकि उनको भी पता चलसके की इक्विटी शेयर क्या होता है?, अगर आपको इसी पोस्ट के बारेमे कुछ सबाल हे तो कमेंट के जरिये जरूर पूछे। और ऐसे ही जानकारी के लिए हमारा वेबसाइट को फॉलो करे। धन्यवाद

Hii, Welcome to Odisha Shayari, I am Rajesh Pahan a Hindi Blogger From the Previous 3 years.

Leave a Comment