देश भक्ति शायरी – Desh Bhakti Shayari in Hindi

Desh Bhakti Shayari in Hindi
Desh Bhakti Shayari in Hindi
देशभक्ति वह भक्ति है जो एक देशवासी उस मिट्टी के लिए महसूस करता है जिससे वह संबंधित है। जिस देश का व्यक्ति होता है, उसके दिल में एक विशेष स्थान होता है। एक सच्चा देशभक्त अपनी मातृभूमि के लिए लड़ता है। अगर कुछ विदेशी हमलावर अपने देश को जीतने के लिए आते हैं तो वे अपनी मातृभूमि को बचाने के लिए अपनी जान तक देने को तैयार हैं।
आज की दुनिया में, इसका मतलब युद्ध लड़ने से ज्यादा है; इसमें देश के विकास में योगदान देना, करों का भुगतान करना और कानूनों का पालन करना और एक अच्छा नागरिक होना भी शामिल है। अधिक जानने के लिए देशभक्ति के बारे में प्रसिद्ध उद्धरण और बातें पढ़ें।

Desh Bhakti Shayari in 2 line (देश भक्ति शायरी)

मेरी जान तु सदा जिंदाबाद रहे तू,
ऐ मेरे प्यारे वतनआबाद रहे तू
Meree jaan tu sada jindaabaad rahe tu,
Ai mere pyaare vatanaabaad rahe tu.
अपनी आज़ादी को हम हरगिज़ मिटा सकते नहीं,
सर कटा सकते हैं लेकिन सर झुका सकते नहीं
Apanee aazaadee ko ham haragiz mita sakate nahin,
Sar kata sakate hain lekin sar jhuka sakate nahin.
जहाँ जाति भाषा से बढ़कर देशप्रेम की धारा है,
वो देश हमारा है, वो देश हमारा है
Jahaan jaati bhaasha se badhakar deshaprem kee dhaara hai,
Vo desh hamaara hai, vo desh hamaara hai.

Desh Bhakti Shayari in Hindi image

एक सैनिक थोड़े से रंगीन रिबन के लिए लंबी और कड़ी लड़ाई लड़ेगा।

A soldier will fight long and hard for a bit of colored ribbon.
आपको देशभक्ति से इतने अंधे नहीं होने चाहिए कि आप वास्तविकता का सामना न कर सकें। गलत गलत है, चाहे कोई भी कहे।

You’re not supposed to be so blind with patriotism that you can’t face reality. Wrong is wrong, no matter who says it.
Desh Bhakti Shayari in Hindi image
Desh Bhakti Shayari in Hindi image
स्वतंत्रता के वृक्ष को समय-समय पर देशभक्तों और अत्याचारियों के खून से ताज़ा किया जाना चाहिए।

The tree of liberty must be refreshed from time to time with the blood of patriots and tyrants.
यह भी पढ़ें – Fathers Day Shayari in Hindi

शहीद देश भक्ति शायरी

शहीद देश भक्ति शायरी
शहीद देश भक्ति शायरी
मैं बॉर्डर पर देश की हिफाजत करूँगा
ये देश मेरी जान है मेरा अभिमान हैं
इसकी रक्षा के लिए
मैं क्या मेरा हर जन्म कुर्बान हैं
Shaheed desh bhakti shaayaree
Main bordar par desh kee hiphaajat karoonga
Ye desh meree jaan hai mera abhimaan hain
Isakee raksha ke lie
Main kya mera har janm kurbaan hain
जो सो चुके है उनको जगाना है
देशभक्ति कोअपनी सासों में बसना है
अपने तिरंगे को पुरे जहा में फेहराना है
Jo so chuke hai unako jagaana hai
Deshabhakti koapanee saason mein basana hai
Apane tirange ko pure jaha mein pheharaana hai

भारत देश पर शायरी

मेरे देश तुझको नमन है मेरा,
जीऊं तो जुबां पर नाम हो तेरा
मरूं तो तिरंगा कफन हो मेरा
Mere desh tujhako naman hai mera,
Jeeoon to jubaan par naam ho tera
Maroon to tiranga kaphan ho mera
जिससे हमारी शान है,
सर हमेशा ऊँचा रखेंगे हम
जब तक हम में जान है।
Kar salaam tirange ko,
Jisase hamaaree shaan hai,
Sar hamesha ooncha rakhenge ham
Jab tak ham mein jaan hai.

Army Desh Bhakti Shayari in Hindi

Army Desh Bhakti Shayari in Hindi
Army Desh Bhakti Shayari in Hindi
कर जज्बे को बुलंद जवान, तेरे पीछे खड़ी आवाम !
हर दुश्मन को मार गिराएंगे, जो हमसे देश बँटवाएंगे
लुटता हुआ वतन देखकर जो खोला नहीं
सोचो ऐसे खून की रवानी किस काम की
कर्ज से इस माटी का चुकाए बिना ढल जाए जो
बताओ दोस्तो वो जवानी किस काम की

Best Desh Bhakti Shayari in Hindi

एक आदमी जो देश के लिए अपना खून बहाने के लिए काफी अच्छा है, उसे बाद में एक वर्ग सौदा दिया जा सकता है।

Ek aadamee jo desh ke lie apana khoon bahaane ke lie kaaphee achchha hai, use baad mein ek varg sauda diya ja sakata hai.

मेरे पास लड़ने के लिए कोई देश नहीं है; मेरा देश पृथ्वी है, और मैं विश्व का नागरिक हूं।

Mere paas ladane ke lie koee desh nahin hai; mera desh prthvee hai, aur main vishv ka naagarik hoon.

देशभक्ति झंडा लहराने में नहीं है, बल्कि यह प्रयास करने में है कि हमारा देश धर्मी भी हो और मजबूत भी।

Deshabhakti jhanda laharaane mein nahin hai, balki yah prayaas karane mein hai ki hamaara desh dharmee bhee ho aur majaboot bhee.

Desh Bhakti Shayari in English

Will protect the country till death
We will face every bullet of the enemy
are free and will be free.
Jai Hind !!
who remains stationed at night
And who is stationed even on the day
will never let freedom end
The sacrifice of martyrs will not be allowed to be defamed
What is left is even a drop of blood
Till then Bharat Mata’s Aanchal will not be sapphire.
यह भी पढ़ें – 

Hii, Welcome to Odisha Shayari, I am Rajesh Pahan a Hindi Blogger From the Previous 3 years.

Leave a Comment